हाथरस की सत्संग त्रासदी में मृत परिवारों के दर्द को शिद्दत से सुना नेता प्रतिपक्ष ने

हाथरस की सत्संग त्रासदी में मृत परिवारों के दर्द को शिद्दत से सुना नेता प्रतिपक्ष ने

Jul 5, 2024 - 20:51
 0  317
हाथरस की सत्संग त्रासदी में मृत परिवारों के दर्द को शिद्दत से सुना नेता प्रतिपक्ष ने
Follow:

पीड़ित परिवारों को यूपी के चीफ मिनिस्टर को दिल खोल कर मुआवजा देंना चाहिए- राहुल गांधी

हाथरस की सत्संग त्रासदी में मृत परिवारों के दर्द को शिद्दत से सुना नेता प्रतिपक्ष ने

अलीगढ़/हाथरस । देश की लोक सभा के नेता प्रतिपक्ष राहुल गांधी ने हाथरस सत्संग त्रासदी के पीड़ित परिवारों के बीच जाकर उनके दर्द को शिद्दत से सुना और गम में शरीक हुए । आज सुबह दिल्ली से चल कर राहुल गांधी अलीगढ़ की काजल के घर गए जहां उन्होंने संवेदना व्यक्त की पीड़ित परिवार के हालातों को जाना। इसके बाद पिलखना गांव के शांति देवी प्रेमवती देवी के पुत्र से मिले सत्संग में हुई भगदड़ के कारणों को जाना।

यहां पीड़ित शोक संतप्त पुत्र विजेंद्र फफक पर राहुल गांधी से लिपट गया और रोने लगा जिस पर राहुल गांधी ने ढाढस बंधाया और हिम्मत दी।इस अवसर पर हाथरस में दलित बस्ती में आयोजित प्रार्थना सभा में शिरकत की और पीड़ितों से जमीन पर बैठ कर मिले। यूपी के हाथरस में पहुंचे राहुल गांधी अलीगढ़ से पहुंचे हाथरस के नवीपुर के ग्रीन पार्क,सत्संग कांड में मरने वालो के परिवार से राहुल गांधी ने की मुलाकात करने के बाद कहा बड़ी घटना है बहुत से लोग मरे हैं प्रशासन की कमी रही है बहुत गलतियां प्रशासन से हुई हैं इस अवसर पर में यूपी के चीफ मिनिस्टर से विनती करता हूं प्रभावित पीड़ित परिवारों को दिल खोल कर मुआवजा दें। जल्दी देशों छ महीने या साल न लगे यह सबसे बड़ा फिलहाल मरहम होगा।

उन्होंने कहा अनेक लोगों ने अपने परिजनों को खोया है। राहुल गांधी ने प्रेस से बात करते हुए कहा है कि गरीब परिवार है मुआवजा सही मिलना चाहिए,ज्यादा से ज्यादा मिलना चाहिए। राहुल गांधी ने आगे कहा कि मैं यूपी के चीफ मिनिस्टर से बार बार विनती करता हूं कि पीड़ितों को दिल खोलकर के मुआवजा देना चाहिए। इस समय इनको मुआवजे की जरूरत है,बाद में छः महीने बाद दिया एक साल बाद दिया।डिले किया उससे किसी का फायदा नहीं है। पीड़ित परिवार से जो बातें हुई है मेरी वो पर्सनल बात है।

पीड़ित परिवार ने कहा कि प्रशासन की कमी है।जो अरेजमेंट वहां होना चाहिए था वो नही था।उन्होंने कहा परिवार बहुत दु:खी है।मुश्किल में है। मैं उनकी परेशानी समझने की कोशिश कर रहा हू। स्मरण रहे मंगलवार को सत्संग समापन के बाद मची भगदड़ में 121 लोगो की मौत हुई थी।जिस पर प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने रूस के राष्ट्रपति ने गहरी शोक संवेदना व्यक्त की थी।

उधर यूपी के मुखंतरी योगी आदित्यनाथ प्रदेश के आला अगसरों के साथ दौरा कर चुके हैं घटना की न्यायिक जांच आयोग गठन किया जा चुका है। आज नेता प्रतिपक्ष राहुल गांधी का दौरा पीड़ितों के दिलों पर मरहम का काम कर गया देखा गया पीड़ित परिवार के शोकाकुल परिजन राहुल गांधी से मिल कर खुब रोए ।राहुल गांधी ने मरने वालों के परिवार को मदद का पूरा भरोसा दिया।

राजू उपाध्याय "सीनियर जर्नलिस्ट"

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow