एफआर लगाने के लिए मांगे 50 हजार, इंस्पेक्टर क्राइम सिमरजीत कौर रंगे हाथों गिरफ्तार

एफआर लगाने के लिए मांगे 50 हजार, इंस्पेक्टर क्राइम सिमरजीत कौर रंगे हाथों गिरफ्तार

May 29, 2024 - 08:47
 0  491
एफआर लगाने के लिए मांगे 50 हजार, इंस्पेक्टर क्राइम सिमरजीत कौर  रंगे हाथों गिरफ्तार
Follow:

बरेली/बदायूं। मेरठ निवासी महिला इंस्पेक्टर बदायूं जिला इस्लामनगर थाने में मंगलवार अपराह्न में 50 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ी गई। बरेली की एंटी करप्शन टीम ने गिरफ्तार किया है। इंस्पेक्टर ने मुकदमे में एफआर लगाने के नाम पर रिश्वत मांगी थी। महिला इंस्पेक्टर को गिरफ्तार कर नोटों को सील किया गया है।

इंस्पेक्टर के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम समेत कई धाराओं में बदायूं के थाना बिनावर में मुकदमा दर्ज किया गया है। बरेली एंटी करप्शन सीओ यशपाल सिंह ने बताया कि उघैती थाने के सैदपुर गांव की रहने वाले सीमा पत्नी स्वर्गीय राजीव कुमार के विरुद्ध इस्लामनगर थाने में रंगदारी, जान से मारने की धमकी और आईटी ऐक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया था। मुकदमे की विवेचना इस्लामनगर थाने के इंस्पेक्टर क्राइम सिमरजीत कौर कर रही थीं।

उन्होंने मुकदमे में फाइनल रिपोर्ट लगाने के बदले 50 हजार की रिश्वत की मांग की थी। सीमा शर्मा ने मामले की शिकायत एंटी करप्शन टीम से की। एंटी करप्शन की टीम ने महिला इंस्पेक्टर को रंगे हाथ रिश्वत लेते पकड़ने के लिए जाल बिछाया। एंटी करप्शन बरेली सीओ यशपाल सिंह ने बताया कि एडीजी निर्देश पर इंस्पेक्टर सुनील कुमार की टीम ने बदायूं के इस्लामनगर थाने में उप निरीक्षक कक्षा में इंस्पेक्टर सिमरजीत कौर को 50 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। इससे पहले इंपेक्टर सिमरजीत कौर निठारी कांड में सस्पेंड रही है।

इंस्पेक्टर मेरठ में गढ़ रोड मोती प्रयाग कॉलोनी की रहने वाली हैं। उनके खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम में मुकदमा बदायूं जिले के बिनावर थाना में मुकदमा दर्ज किया गया है। बरेली एंटी करप्शन कोर्ट में पेश करने बाद उन्हें जेल भेज दिया गया है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow