USE IT OR LOOSE IT

Nov 1, 2023 - 11:36
 0  50
USE IT OR LOOSE IT
Follow:

USE IT OR LOOSE IT

हम देखते है आज कि धन , ज्ञान , प्रतिभा आदि - आदि का अगर सही उपयोग नहीं हुआ निरन्तर तो उसमे खालीपन आने लग जाता हैं ।

जो व्यक्ति दुष्प्राप्त मनुष्य जीवन में अपनी प्रतिभा को व्यर्थ में गँवा देता है वह ज्ञानीजनों की दृष्टि में वैसा ही नासमझ है जैसा नासमझ स्वर्णथाल का उपयोग धूल फेंकने के लिए करने वाला, अमृत का उपयोग पैर धोने के लिए करनेवाला , उत्तम हाथी का उपयोग लकड़ियों की ढुलाई के लिए करनेवाला तथा चिंतामणिरत्न क़ौआ उड़ाने के लिए फेंकने वाला होता हैं।

इस संसार में एक से एक अधिक आश्चर्यजनक एवं दुर्लभ वस्तुएँ है और सबका अपना वजूद हैं। अपना सर्वस्व देकर श्रेष्ठ बनते है।मनुष्य जीवन भी आश्चर्यजनक और दुर्लभ वस्तु है।ऐसा इसलिए की मनुष्य संसार के समस्त आश्चर्यों का केंद्र है,जनक है। मनुष्य जीवन वह भित्ति है जिसके सुदृढ़ आधार पर आत्मा अपने चरम लक्ष्य-परमात्म-पद को उपलब्ध हो सकती हैं ।अपना सर्वोच्च अभ्युदय कर सकती है।

 अतःअपना विवेक और हित इसी में सुरक्षित है की मनुष्य जीवन की दुर्लभता और विशिष्टता आदि को समझकर उसका एक-एक क्षण सफल बनाए। इस ब्रह्माण्ड में कुछ भी स्थायी नहीं रहता हैं । हमारे पास जो है उसका करो या तो उपयोग अन्यथा उसका उपभोग नहीं कर सकोगे , इकट्ठा या है जैसा में भरके या वैसा आदि रखेंगे तो उसका दिनों दिन ह्रास ही होगा । इस तरह इन सब एवं ऐसे ही अन्य के लिए हम सारांश में कह सकते हैं USE IT OR LOOSE IT . प्रदीप छाजेड़ ( बोरावड़ )

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow