Wimbledon 2023: ये हैं वो महिला खिलाड़ी जिनके नाम हैं सर्वाधिक ग्रैंड स्लैम मुकाबले खेलने का रिकॉर्ड, जानें कौन है शीर्ष पर

वर्तमान में इंग्लैंड में विंबलडन 2023 का आयोजन किया जा रहा है। इस टूर्नामेंट में इस बार महिला वर्ग में पेट्रा क्वितोवा, एलेना रयबाकिना और इगा स्विएटेक जीत की प्रबल दावेदार हैं। ये सभी खिलाड़ी फैंस की भी फेवरेट बनी हुई है। इस बार विंबलडन टूर्नामेंट में टेनिस की अमेरिकी दिग्गज सेरेना विलियम्स ने संन्यास लेने के कारण हिस्सा नहीं लिया। वहीं उनकी छोटी बहन 42 वर्षीय वीनस विलियम्स ने इस साल विंबलडन में वापसी की थी मगर वो कमाल नहीं कर सकीं और पहले ही राउंड में एलिना स्वितोलिना से हार मिलने के बाद उनका सफर खत्म हो गया।बता दें कि वीनस विलियम्स का ये ग्रैंड स्लैम में 355वां मैच था। बेहद ही कम खिलाड़ी इस उपल्बधि को हासिल कर सकें हैं, जिसमें वीनस विलियम्स का भी नाम शामिल है। एक नजर डालते हैं उन खिलाड़ियों पर जिन्होंने महिला एकल मुकाबलों में सबसे अधिक मैच खेले है।5. स्टेफी ग्राफ (310)टेनिस खिलाड़ी स्टेफी ग्राफ गोल्डन ग्रैंड स्लैम जीतने वाली पहली खिलाड़ी है। टेनिस की फील्ड में उनकी अपनी विरासत रही है। स्टेफी ने महज 13 वर्ष की उम्र में ही अंतरराष्ट्रीय रैंकिंग हासिल की थी। ऐसा करने वाली वो दूसरी सबसे कम उम्र की खिलाड़ी बनीं और अपने शानदार करियर के दौरान उन्होंने 22 ग्रैंड स्लैम खिताब जीते। उन्होंने कुल 310 टेनिस ग्रैंड स्लैम मैच खेले है। टेनिस करियर में उनके सबसे प्रतिष्ठित क्षणों में से एक 1987 में फ्रेंच ओपन में मार्टिना नवरातिलोवा को हराना था। उन्होंने सिर्फ 17 वर्ष की उम्र में ही अपने आक्रामक खेल से अमेरिकी दिग्गज खिलाड़ी मार्टिना को हराकर अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीता था। इस जीत से उन्हें ढ़ेरों सुर्खियां मिली थी। 4. क्रिस एवर्ट (336)अमेरिकी टेनिस दिग्गज क्रिस एवर्ट ने खेल जगत को ही बदल दिया। उन्होंने खेल के तरीकों में कई बदलाव लाए। उनके कारण कई खिलाड़ी खेल में आने के लिए प्रेरित हुए। बता दें कि वर्ष 1976 में स्पोर्ट्स इलस्ट्रेटेड स्पोर्ट्समैन ऑफ द ईयर का पुरस्कार जीतने वाली एकमात्र महिला खिलाड़ी है। वो ऐसी खिलाड़ी हैं जिन्होंने अपनी दृढ़ भावना से कैंसर से लड़कर उसे भी हराया है। एवर्ट ने अपने करियर को अलविदा कहने से पहले तक 336 ग्रैंड स्लैम मैच खेले है। वो कभी पहले या दूसरे दौर का मुकाबला नहीं हारी।3. मार्टिना नवरातिलोवा (355)चेक-अमेरिकी टेनिस दिग्गज मार्टिना के खाते में 18 प्रमुख एकल पुरस्कार हैं। मार्टिना नवरातिलोवा आमतौर पर अमेरिकी टेनिस दिग्गज क्रिस एवर्ट के साथ प्रतिद्वंद्विता के लिए काफी मशहूर है। दोनों के बीच की टक्कर टेनिस इतिहास में सर्वश्रेष्ठ में से एक मानी जाती है। मार्टिना नवरातिलोवा ने वर्ष 1978 में विंबलडन में ही अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीता था। इस जीत को हासिल करने के लिए मार्टिना नवरातिलोवा ने क्रिस एवर्ट के खिलाफ ऐसा शानदार प्रदर्शन किया था, जो आज भी फैंस को उनके कौशल की याद दिलाता है। 2. वीनस विलियम्स (355)अमेरिकी टेनिस स्टार और दिग्गज खिलाड़ी वीनस विलियम्स ने भी कु 355 मुकाबले खेले हैं। इन मुकाबलों के साथ ही वो चेक-अमेरिकी टेनिस दिग्गज मार्टिना नवरातिलोवा के साथ संयुक्त रूप से दूसरे सबसे अधिक ग्रैंड स्लैम मैच खेलने वाली महिला खिलाड़ी है। वर्ष 2023 के विंबलडन में उन्होंने बेहद साहसिक रूप से 43 वर्ष की उम्र में टेनिस कोर्ट में दोबारा कदम रखा था। पॉवरफुल स्ट्रोक और ग्राउंड स्ट्रोक मारने में महारत हासिल करने वाली वीनस विलियम्स के पास सात ग्रैंड स्लैम ट्रॉफी है। उन्होंने पांच बार विंबलडन और दो बार यूएस ओपन खिताब दो दशकों में अपने नाम किया है।1. सेरेना विलियम्स (423)टेनिस में जो उपलब्धि और सफलताएं सेरेना विलियम्स ने हासिल की है वो किसी महिला के लिए तो क्या कई पुरुष खिलाड़ियों के लिए हासिल करना भी बेहद मुश्किल है। सेरेना विलियम्स को टेनिस का पर्याय कहा जाता है। सेरेना विलियम्स ने अपने करियर मे कुल 23 ग्रैंड स्लैम जीते है। उनके इस रिकॉर्ड की बराबरी सिर्फ अब तक सर्बियाई खिलाड़ी नोवाक जोकोविच कर सके है। पूर्व अमेरिकी अंतर्राष्ट्रीय टेनिस खिलाड़ी सेरेना विलियम्स सिंगल और डबल्स दोनों ही श्रेणियों में ग्रैंड स्लैम जीतने वाली एकमात्र खिलाड़ी है। बता दें कि टेनिस रैंकिंग में सेरेना विलियम्स 319 सप्ताह तक शीर्ष रैंकिंग पर काबिज रह चुकी है, अपने आप में एक रिकॉर्ड है। 

Jul 8, 2023 - 09:22
 0  23
Wimbledon 2023: ये हैं वो महिला खिलाड़ी जिनके नाम हैं सर्वाधिक ग्रैंड स्लैम मुकाबले खेलने का रिकॉर्ड, जानें कौन है शीर्ष पर
Follow:

वर्तमान में इंग्लैंड में विंबलडन 2023 का आयोजन किया जा रहा है। इस टूर्नामेंट में इस बार महिला वर्ग में पेट्रा क्वितोवा, एलेना रयबाकिना और इगा स्विएटेक जीत की प्रबल दावेदार हैं। ये सभी खिलाड़ी फैंस की भी फेवरेट बनी हुई है। इस बार विंबलडन टूर्नामेंट में टेनिस की अमेरिकी दिग्गज सेरेना विलियम्स ने संन्यास लेने के कारण हिस्सा नहीं लिया। वहीं उनकी छोटी बहन 42 वर्षीय वीनस विलियम्स ने इस साल विंबलडन में वापसी की थी मगर वो कमाल नहीं कर सकीं और पहले ही राउंड में एलिना स्वितोलिना से हार मिलने के बाद उनका सफर खत्म हो गया।

बता दें कि वीनस विलियम्स का ये ग्रैंड स्लैम में 355वां मैच था। बेहद ही कम खिलाड़ी इस उपल्बधि को हासिल कर सकें हैं, जिसमें वीनस विलियम्स का भी नाम शामिल है। एक नजर डालते हैं उन खिलाड़ियों पर जिन्होंने महिला एकल मुकाबलों में सबसे अधिक मैच खेले है।

5. स्टेफी ग्राफ (310)
टेनिस खिलाड़ी स्टेफी ग्राफ गोल्डन ग्रैंड स्लैम जीतने वाली पहली खिलाड़ी है। टेनिस की फील्ड में उनकी अपनी विरासत रही है। स्टेफी ने महज 13 वर्ष की उम्र में ही अंतरराष्ट्रीय रैंकिंग हासिल की थी। ऐसा करने वाली वो दूसरी सबसे कम उम्र की खिलाड़ी बनीं और अपने शानदार करियर के दौरान उन्होंने 22 ग्रैंड स्लैम खिताब जीते। उन्होंने कुल 310 टेनिस ग्रैंड स्लैम मैच खेले है। टेनिस करियर में उनके सबसे प्रतिष्ठित क्षणों में से एक 1987 में फ्रेंच ओपन में मार्टिना नवरातिलोवा को हराना था। उन्होंने सिर्फ 17 वर्ष की उम्र में ही अपने आक्रामक खेल से अमेरिकी दिग्गज खिलाड़ी मार्टिना को हराकर अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीता था। इस जीत से उन्हें ढ़ेरों सुर्खियां मिली थी। 

4. क्रिस एवर्ट (336)
अमेरिकी टेनिस दिग्गज क्रिस एवर्ट ने खेल जगत को ही बदल दिया। उन्होंने खेल के तरीकों में कई बदलाव लाए। उनके कारण कई खिलाड़ी खेल में आने के लिए प्रेरित हुए। बता दें कि वर्ष 1976 में स्पोर्ट्स इलस्ट्रेटेड स्पोर्ट्समैन ऑफ द ईयर का पुरस्कार जीतने वाली एकमात्र महिला खिलाड़ी है। वो ऐसी खिलाड़ी हैं जिन्होंने अपनी दृढ़ भावना से कैंसर से लड़कर उसे भी हराया है। एवर्ट ने अपने करियर को अलविदा कहने से पहले तक 336 ग्रैंड स्लैम मैच खेले है। वो कभी पहले या दूसरे दौर का मुकाबला नहीं हारी।

3. मार्टिना नवरातिलोवा (355)
चेक-अमेरिकी टेनिस दिग्गज मार्टिना के खाते में 18 प्रमुख एकल पुरस्कार हैं। मार्टिना नवरातिलोवा आमतौर पर अमेरिकी टेनिस दिग्गज क्रिस एवर्ट के साथ प्रतिद्वंद्विता के लिए काफी मशहूर है। दोनों के बीच की टक्कर टेनिस इतिहास में सर्वश्रेष्ठ में से एक मानी जाती है। मार्टिना नवरातिलोवा ने वर्ष 1978 में विंबलडन में ही अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीता था। इस जीत को हासिल करने के लिए मार्टिना नवरातिलोवा ने क्रिस एवर्ट के खिलाफ ऐसा शानदार प्रदर्शन किया था, जो आज भी फैंस को उनके कौशल की याद दिलाता है। 

2. वीनस विलियम्स (355)
अमेरिकी टेनिस स्टार और दिग्गज खिलाड़ी वीनस विलियम्स ने भी कु 355 मुकाबले खेले हैं। इन मुकाबलों के साथ ही वो चेक-अमेरिकी टेनिस दिग्गज मार्टिना नवरातिलोवा के साथ संयुक्त रूप से दूसरे सबसे अधिक ग्रैंड स्लैम मैच खेलने वाली महिला खिलाड़ी है। वर्ष 2023 के विंबलडन में उन्होंने बेहद साहसिक रूप से 43 वर्ष की उम्र में टेनिस कोर्ट में दोबारा कदम रखा था। पॉवरफुल स्ट्रोक और ग्राउंड स्ट्रोक मारने में महारत हासिल करने वाली वीनस विलियम्स के पास सात ग्रैंड स्लैम ट्रॉफी है। उन्होंने पांच बार विंबलडन और दो बार यूएस ओपन खिताब दो दशकों में अपने नाम किया है।

1. सेरेना विलियम्स (423)
टेनिस में जो उपलब्धि और सफलताएं सेरेना विलियम्स ने हासिल की है वो किसी महिला के लिए तो क्या कई पुरुष खिलाड़ियों के लिए हासिल करना भी बेहद मुश्किल है। सेरेना विलियम्स को टेनिस का पर्याय कहा जाता है। सेरेना विलियम्स ने अपने करियर मे कुल 23 ग्रैंड स्लैम जीते है। उनके इस रिकॉर्ड की बराबरी सिर्फ अब तक सर्बियाई खिलाड़ी नोवाक जोकोविच कर सके है। पूर्व अमेरिकी अंतर्राष्ट्रीय टेनिस खिलाड़ी सेरेना विलियम्स सिंगल और डबल्स दोनों ही श्रेणियों में ग्रैंड स्लैम जीतने वाली एकमात्र खिलाड़ी है। बता दें कि टेनिस रैंकिंग में सेरेना विलियम्स 319 सप्ताह तक शीर्ष रैंकिंग पर काबिज रह चुकी है, अपने आप में एक रिकॉर्ड है। 

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow