Aligarh News: आसिया खान को चुनाव में स्तेमाल किया और फिर तीन तलाक

Aligarh News: आसिया खान को चुनाव में स्तेमाल किया और फिर तीन तलाक

Jul 8, 2024 - 08:24
 0  360
Aligarh News:  आसिया खान को चुनाव में स्तेमाल किया और फिर तीन तलाक
Follow:

UP अलीगढ़। थाना छर्रा इलाके के सुनपहर एदलपुर निवासी आसिया खान ने अपने पति सेवानमियां उर्फ़ शानू खान पर बेहद ही गंभीर आरोप लगाया है।

आसिया खान ने बताया है कि उसने 26 अप्रैल 2024 लोकसभा चुनाव अलीगढ़ के मतदान में भारतीय जनता पार्टी को अपना वोट डाल दिया तो उसके पति ने उसको मौके पर ही तीन बार तलाक तलाक तलाक कहकर अपनी जिंदगी से बेदखल कर दिया। पीड़िता आसिया खान ने थाने में शिकायत की, लेकिन कोई वाज़िब कार्रवाई अमल में नहीं लाई गई. तभी से पीड़िता दर-दर की ठोकने खाने को मजबूर है और न्याय के लिए भटक रही है।

आसिया खान और उसकी मां सकीना ने शादी की पूरी कहानी पर नजर डाली तो मामला बेहद भी चौंकाने वाला और संवेदनशील सामने आया है. आसिया खान और उसकी मां सकीना बता रही है कि यह शुरुआत 7 अप्रैल 2021 से हुई थी. वह समय था जिला पंचायत चुनाव का. आशिया ने बताया है कि जिला पंचायत सदस्य वार्ड नंबर 45 पर महिला की बीसी टिकट डिक्लेअर हुई थी. सेवानमियां उर्फ़ शानू खान जो सपा नेता है, और उसको जिला पंचायत सदस्य को चुनाव लड़ना था। लेकिन शानू खान पठान होने के चलते जनरल में आता है।

 इसीलिए धोखे से सेवानमियां उर्फ़ शानू खान ने उसके साथ 7 अप्रैल 2021 को निकाह किया और आसिया खान के नाम से सपा की टिकट लेकर चुनाव लड़ा. लेकिन उस चुनाव को सेवानमियां उर्फ़ शानू खान हार गया. केवल चुनाव लड़ने के लिए ही किया था निकाह आसिया खान ने बताया कि चुनाव की भाग दौड़ के बाद फ्री होने पर पता चला कि सेवानमियां उर्फ़ शानू खान पहले से शादीशुदा है एक बेटा भी है, लेकिन उसके साथ झूठ बोलकर चुनाव लड़ने के लिए ही निकाह किया गया था. तो इस पर आसिया ने ससुराल में आपत्ति जताई।

 लेकिन ससुरालीजन गुमराह करते रहे. इसके बाद उसके साथ अतिरिक्त दहेज की डिमांड शुरू हुई और अभद्रता, मारपीट की वारदात शुरू हो गई। आसिया खान ने बताया कि ऐसा चलते-चलते समय बीता और सेवानमियां उर्फ़ शानू खान ने मारपीट कर घर से निकाल दिया. जिसकी शिकायत पुलिस से की गई. लेकिन उसमें कोई कार्रवाई नहीं हुई. समय गुजरता गया, समय लोकसभा चुनाव 2024 का आया. आसिया खान ने बताया कि अलीगढ़ लोकसभा चुनाव के मद्देनजर 26 अप्रैल को वह क्षेत्र के बूथ से अपनी मां और भाई के साथ वोट डालकर लौट रही थी।

इसी दौरान सेवानमियां उर्फ़ शानू खान अपने अन्य भाइयों और दोस्तों के साथ मिला बीच रास्ते में उसने मुझसे पूछा कि वोट किसको डाला है. तो आसिया ने अपने पति को बताया कि वह भारतीय जनता पार्टी को वोट डालकर आई है क्योंकि तीन तलाक के मामले पर इस पार्टी में काफी काम किया है. इसी पर आशिया का पति आग बबूला हो गया और गुस्से में आकर अपने भाइयों के कहने पर मौके पर ही तीन बार तलाक, तलाक, तलाक कहकर अपनी ज़िंदगी से बेदखल करने की बात कहते हुए जान से मारने की धमकी देकर चला आया।

इसकी शिकायत पीड़िता आसिया खान ने संबंधित थाना पुलिस से जाकर की. मामले में इतना वक्त गुजर चुका है लेकिन आरोपी के विरुद्ध पुलिस की तरफ से कोई पुलिसिया कार्रवाई नजर नहीं आई है. पीड़िता दर-दर भटक रही है. न्याय की गुहार लगा रही है। अब थक हारकर पीड़िता आसिया खान ने अतरौली तहसील दिवस में अपनी शिकायत उच्च अधिकारियों के समक्ष रखी, तो मामला जग जाहिर हुआ है।

क्षेत्राधिकारी छर्रा रवि शंकर सिंह ने मामले पर जानकारी देते हुए बताया है कि एक महिला का वीडियो संज्ञान में आया है. जिसमें वह अपने ससुरालीजन और पति पर आरोप लगा रही है। महिला की शिकायत के आधार पर मुकदमा पंजीकृत किया जा रहा है. महिला के अन्य आरोपों में सत्यता नहीं पाई जा रही है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow