Heat Wave Alert: मार्च में मई जैसी गर्मी! देश के कई राज्यों में 40 डिग्री पार

Mar 28, 2024 - 08:36
 0  9
Heat Wave Alert: मार्च में मई जैसी गर्मी! देश के कई राज्यों में 40 डिग्री  पार
Follow:

नई दिल्ली। देश के कई राज्यों में मार्च महीने में ही भीषण गर्मी का प्रकोप देखने को मिल रहा है।

 मार्च में पड़ रही इतनी गर्मी को देखते हुए जून तक देश के कई राज्यों में झुलसाने वाली गर्मी पड़ सकती है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के हालिया अपडेट में, कर्नाटक, गुजरात, महाराष्ट्र और राजस्थान के कई क्षेत्रों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के पार चला गया है. भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने अगले दो से तीन दिनों में कुछ राज्यों में तापमान औसत से ऊपर रहने का अनुमान लगाया है।

आईएमडी के सीनियर वैज्ञानिक आरके जेनामणि ने कहा कि एक एंटि-चक्रवात है जिसकी वजह से महाराष्ट्र और कर्नाटक में अगले 2-3 दिनों तक 40-41 डिग्री सेल्सियस तापमान रहेगा। मौसम वैज्ञानिक ने कोंकण और गोवा क्षेत्रों में गर्म और आर्द्र स्थिति की भविष्यवाणी की है।

साथ ही उन्होंने बताया है कि सौराष्ट्र और कच्छ के साथ- साथ महाराष्ट्र के आंतरिक हिस्सों में अगले दो दिनों तक लू (Loo) चलेगी. IMD के अपडेट के मुताबिक बुधवार को गुजरात के भुज में पारा 41.6 डिग्री सेल्सियस, राजकोट में 41.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. वहीं महाराष्ट्र के अकोला में 41.5 डिग्री सेल्सियस और वाशिम में तापमान 41.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

आईएमडी के अनुसार, 27 से 29 मार्च तक उत्तरी आंतरिक कर्नाटक के अलग-अलग हिस्सों में, 27 और 28 मार्च को गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ में, और 27 मार्च को दक्षिण-पश्चिम राजस्थान में लू की स्थिति की अत्यधिक संभावना है. इसके अलावा, 27 से 29 मार्च के दौरान गुजरात, मराठवाड़ा और मध्य महाराष्ट्र के अलग-अलग इलाकों में गर्म रातें रहने की उम्मीद है, जिसमें न्यूनतम तापमान सामान्य से अधिक होगा।

लू तब चलती है जब किसी केंद्र का अधिकतम तापमान मैदानी इलाकों में कम से कम 40 डिग्री सेल्सियस, तटीय क्षेत्रों में 37 डिग्री सेल्सियस और पहाड़ी क्षेत्रों में 30 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है, जो सामान्य से कम से कम साढ़े चार डिग्री अधिक रहता है। ऐसे करें हीटवेव से अपनी सुरक्षा पानी पीते रहें: गर्मी में डिहाइड्रेशन से बचने के लिए खूब पानी पीते रहें। हल्के रंग के कपड़े पहनें: गहरे रंग के कपड़े गर्मी को सोखते हैं, इसलिए हल्के रंग के कपड़े पहनें।

धूप में जाने से बचें: ज्यादा धूप में जाने से बचें, खासकर दोपहर के समय। पानी साथ में रखें यदि आप बाहर जा रहे हैं, तो पानी की बोतल और सनस्क्रीन अपने साथ ले जाना न भूलें. सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें: धूप में निकलने से पहले सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें। ठंडे पेय पदार्थों का सेवन करें: ठंडे पेय पदार्थों का सेवन शरीर को ठंडा रखने में मदद करता है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, अल नीनो के कारण इस साल गर्मी का मौसम सामान्य से अधिक गर्म रहने की संभावना है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने पूर्वोत्तर प्रायद्वीपीय भारत में सामान्य से अधिक गर्मी वाले दिनों की भविष्यवाणी की है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने कहा है कि अल नीनो का प्रभाव गर्मी के मौसम पर जारी रहेगा।

अल नीनो एक जलवायु घटना है जो मध्य प्रशांत महासागर में पानी के गर्म होने के कारण होती है. अल नीनो का प्रभाव दुनिया भर में महसूस किया जाता है, और यह भारत में गर्मी को बढ़ा सकता है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow