ऑल्टो 7वें स्थान पर

हालांकि इस महीने भारतीय ऑटोमोबाइल बाजार में कुछ सुस्ती जरूर देखने को मिली और मई के मुकाबले जून की सेल में 2 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। मई 2023 में 3.35 लाख यूनिट्स की सेल हुई, वहीं जून में ये सेल 3.27 लाख यूनिट्स की रही। दूसरी तरफ सालाना तौर पर देखने में ये 2 फीसदी की बढ़त रही है। जून 2022 के आंकड़ाें को देखा जाए तो उस समय कारों की 3.21 लाख यूनिट्स ही सेल हुई थीं। दूसरे और तीसरे पायदान पर भी मारुति मारुति वैगन आर की कंपनी ने जून में 17,481 यूनिट्स सेल कीं। वहीं दूसरे पायदान पर कंपनी की पॉपुलर हैचबैक स्विफ्ट रही। इस कार की 15,955 यूनिट्स की सेल दर्ज हुई। तीसरे पायदान पर ह्युंडई ने इस बार मारुति की स्थान पर अतिक्रमण जमाया है ओर कंपनी की क्रेटा एसयूवी की 14447 यूनिट्स सेल हुई हैं। चौथे पायदान पर मारुति सुजुकी बलेनो रही है और इसकी 14,077 यूनिट्स बिकीं। टाटा की सेल में भी वृद्धि वहीं टाटा मोटर्स ने एक बार फिर एसयूवी सेगमेंट में बेहतर सेल दिखाई है और टाटा नेक्सॉन की सेल में बढ़त दिखी है। कंपनी ने नेक्सॉन की 13827 यूनिट्स से सेल की हैं। वहीं छठी पोजिशन पर ह्युंडई की वेन्यू 11606 यूनिट्स के साथ रही। कभी मारुति सुजुकी की सबसे अधिक बिकने वाली बजट कार ऑल्टो की 11323 यूनिट्स ही बिकीं और ये सातवें पायदान पर रही। टाटा की माइक्रो एसयूवी पंच ने एक बार फिर इस लिस्ट में स्थान बनाई है और कार 10990 यूनिट्स की सेल के साथ आठवें पायदान पर रही। वहीं मारुति सुजुकी ब्रेजा 10578 यूनिट्स के साथ नौवें और ग्रैंड विटारा 10486 यूनिट्स की सेल के साथ दसवें पायदान पर स्थान बना सकी है। लिस्ट से होंडा गायब वहीं इस लिस्ट में इस बार होंडा की किसी भी कार ने स्थान नहीं बनाई है। न ही टोयोटा की कोई वाहन इस लिस्ट में आ सकी है। हालांकि दोनों ही कंपनियां त्योहारी सीजन पर अपनी नयी कारों को लॉन्च करने की तैयारी कर रही है और आने वाले समय में दोनों ही सेल में बूम देखा जा सकता है। वहीं टाटा भी अपनी नयी नेक्सॉन के साथ ही इलेक्ट्रिक कारों की लिस्ट में वृद्धि करने की तैयारी में है।

Jul 5, 2023 - 16:14
 0  11
ऑल्टो 7वें स्थान पर
Follow:

हालांकि इस महीने भारतीय ऑटोमोबाइल बाजार में कुछ सुस्ती जरूर देखने को मिली और मई के मुकाबले जून की सेल में 2 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। मई 2023 में 3.35 लाख यूनिट्स की सेल हुई, वहीं जून में ये सेल 3.27 लाख यूनिट्स की रही। दूसरी तरफ सालाना तौर पर देखने में ये 2 फीसदी की बढ़त रही है। जून 2022 के आंकड़ाें को देखा जाए तो उस समय कारों की 3.21 लाख यूनिट्स ही सेल हुई थीं।

दूसरे और तीसरे पायदान पर भी मारुति

मारुति वैगन आर की कंपनी ने जून में 17,481 यूनिट्स सेल कीं। वहीं दूसरे पायदान पर कंपनी की पॉपुलर हैचबैक स्विफ्ट रही। इस कार की 15,955 यूनिट्स की सेल दर्ज हुई। तीसरे पायदान पर ह्युंडई ने इस बार मारुति की स्थान पर अतिक्रमण जमाया है ओर कंपनी की क्रेटा एसयूवी की 14447 यूनिट्स सेल हुई हैं। चौथे पायदान पर मारुति सुजुकी बलेनो रही है और इसकी 14,077 यूनिट्स बिकीं।

टाटा की सेल में भी वृद्धि

वहीं टाटा मोटर्स ने एक बार फिर एसयूवी सेगमेंट में बेहतर सेल दिखाई है और टाटा नेक्सॉन की सेल में बढ़त दिखी है। कंपनी ने नेक्सॉन की 13827 यूनिट्स से सेल की हैं। वहीं छठी पोजिशन पर ह्युंडई की वेन्यू 11606 यूनिट्स के साथ रही। कभी मारुति सुजुकी की सबसे अधिक बिकने वाली बजट कार ऑल्टो की 11323 यूनिट्स ही बिकीं और ये सातवें पायदान पर रही।

टाटा की माइक्रो एसयूवी पंच ने एक बार फिर इस लिस्ट में स्थान बनाई है और कार 10990 यूनिट्स की सेल के साथ आठवें पायदान पर रही। वहीं मारुति सुजुकी ब्रेजा 10578 यूनिट्स के साथ नौवें और ग्रैंड विटारा 10486 यूनिट्स की सेल के साथ दसवें पायदान पर स्थान बना सकी है।

लिस्ट से होंडा गायब

वहीं इस लिस्ट में इस बार होंडा की किसी भी कार ने स्थान नहीं बनाई है। न ही टोयोटा की कोई वाहन इस लिस्ट में आ सकी है। हालांकि दोनों ही कंपनियां त्योहारी सीजन पर अपनी नयी कारों को लॉन्च करने की तैयारी कर रही है और आने वाले समय में दोनों ही सेल में बूम देखा जा सकता है। वहीं टाटा भी अपनी नयी नेक्सॉन के साथ ही इलेक्ट्रिक कारों की लिस्ट में वृद्धि करने की तैयारी में है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow