Jabalpur Double Murder Case : नाबालिग प्रेमिका पाने को 2 की हत्या, पाँच की सूची, बदले की आग में सीने पर टैटू

Jabalpur Double Murder Case : नाबालिग प्रेमिका पाने को 2 की हत्या, पाँच की सूची, बदले की आग में सीने पर टैटू

Jun 1, 2024 - 08:35
 0  212
Jabalpur Double Murder Case : नाबालिग प्रेमिका पाने को 2 की हत्या, पाँच की सूची, बदले की आग में सीने पर टैटू
Follow:

Jabalpur Double Murder Case Update: जबलपुर के बहुचर्चित पिता-पुत्र मर्डर केस में एक और बड़ा खुलासा हुआ है. 21 वर्षीय मुख्य आरोपी मुकुल सिंह तीन अन्य लोगों की भी हत्या करना चाहता था।

सिविल लाइन्स थाना प्रभारी धीरज राज ने बताया कि मुकुल के सीने में बदले की आग जल रही थी। जेल से छूटने के बाद उसने पांच लोगों को ठिकाने लगाने की योजना बनाई. पहला नंबर नाबालिग प्रेमिका के पिता यानी राजकुमार विश्वकर्मा का था। दूसरा नंबर प्रेमिका की एक महिला रिश्तेदार का था। महिला रिश्तेदार प्रेमिका को आरोपी से बातचीत करने के लिए रोकती थी. मुकुल का तीसरा टारगेट पड़ोसी था. चौथा नंबर रेप के मामले में जेल भिजवानेवाली महिला सब इंस्पेक्टर थी।

पांचवां और आखिरी नंबर 16 साल की नाबालिग प्रेमिका थी। मुकुल को डर था कि प्रेमिका के बयान से सजा हो सकती है. हालांकि, दोबारा प्रेम-प्रसंग शुरू होने के कारण मुकुल ने प्रेमिका को मारने का इरादा त्याग दिया. बाद में नाबालिग प्रेमिका भी प्रेमी की खूनी साजिश में शामिल हो गयी। डबल मर्डर केस के जांच अधिकारी धीरज राज ने बताया कि मिलेनियम कॉलोनी में पिता-पुत्र के दोहरे हत्याकांड का मुख्य आरोपी मुकुल सिंह सिरफिरा है. उसने पांच मर्डर के लिए सीने में टैटू बनवाया था. मर्डर की लिस्ट लंबी होनेवाली थी।

मुकुल सिंह प्रेमिका के पिता से प्रतिशोध की आग में जल रहा था. सितंबर 2023 में मुकुल को नाबालिग प्रेमिका के पिता ने रेप मामले में जेल की हवा खिलाई थी. नाबालिक प्रेमिका ने भी मुकुल के खिलाफ बयान दिया था। जेल से छूटने के बाद मुकुल ने जघन्य हत्याकांड को अंजाम देने की योजना बना ली थी. मुकुल ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि नाबालिग प्रेमिका के भाई का कत्ल धोखे में हुआ. पिता पर वार होता देख बेटे ने शोर मचाना शुरू कर दिया. मुकुल ने धारदार हथियार से हमला कर प्रेमिका के भाई को मौत के घाट उतार दिया।

 पुलिस ने बताया कि मुकुल के सरेंडर करने की वजह भी नाबालिग प्रेमिका का अचानक गिरफ्तार होना था। शातिर दिमाग वाले मुकुल को लगा कि नाबालिग प्रेमिका पुलिस को बयान देकर दोहरे हत्याकांड में फंसा देगी. प्रेमिका को पुलिस ने हरिद्वार से पकड़ लिया था. दो दिन बाद मुकुल ने भी जबलपुर आकर पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया. पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह का कहना है कि दोहरे हत्याकांड में दोनों आरोपी बराबर से दोषी हैं. उनके खिलाफ जांच करके कोर्ट में चालान पेश किया जाएगा।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow