AAP सांसद संजय सिंह शराब नीति घोटाले में ED ने किया गिरफ्तार

Oct 4, 2023 - 20:57
 0  31
AAP सांसद संजय सिंह शराब नीति घोटाले में  ED ने किया  गिरफ्तार
Follow:

दिल्ली की शराब नीति घोटाले के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने बड़ा एक्शन लिया है. ईडी ने लंबी पूछताछ के बाद संजय सिंह को अरेस्ट कर लिया है।

ईडी ने शराब नीति घोटाले में बुधवार को AAP के राज्यसभा सांसद संजय सिंह के घर छापेमारी की थी। ED शराब नीति घोटाले में मनी लॉन्ड्रिंग की जांच कर रही है. ईडी ने पिछले दिनों इस मामले में चार्जशीट दाखिल की थी. इसमें संजय सिंह का भी नाम है।

ईडी के एक्शन के बाद सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि संजय सिंह की गिरफ़्तारी बिलकुल ग़ैर क़ानूनी है। ये मोदीजी की बौखलाहट दर्शाता है. चुनाव तक ये कई और विपक्षी नेताओं को गिरफ़्तार करेंगे. वहीं आम आदमी पार्टी कल भाजपा दफ़्तर पर 11 बजे प्रदर्शन करेगी। जानकारी के मुताबिक संजय सिंह से ईडी ने करीब 10 घंटे तक लंबी पूछताछ की थी. फिलहाल संजय सिंह अपने घर पर ही मौजूद हैं।

 पूछताछ के बाद ईडी ने संजय सिंह को अरेस्ट कर लिया है. इसके बाद पैरामिलिट्री फोर्स की मौजूदगी बढ़ा दी है । अब ईडी के अधिकारी संजय सिंह को लेकर जाएंगे. वहीं आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं का भी संजय सिंह के घर के बाहर एकत्र होना शुरू हो गया है. शाम करीब साढ़े 6 बजे संजय सिंह घर से बाहर निकले और उन्होंने अपने समर्थकों का अभिवादन किया। इसके बाद उन्हें गाड़ी में बैठाकर ईडी के हेडक्वार्टर में ले जाया गया।

जब संजय सिंह को ईडी की टीम अपने साथ लेकर जा रही थी, तब आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं की पुलिस के साथ हल्की झड़प भी हुई। वहींं ईडी हेडक्वार्टर पर नोटिस चस्पा किया गया है कि अगर कोई कार्यकर्ता यहां प्रदर्शन करता है तो उसे हिरासत में लिया जाएगा। ईडी के दफ्तर पर दिल्ली पुलिस और पैरामिलिट्री के जवान अलर्ट हो गए हैं. साथ ही यहां बैरिकेडिंग कर दी गई है. करीब 6.43 बजे ईडी की टीम संजय सिंह को ईडी के दफ्तर लेकर पहुंची।

रातभर ईडी के हेडक्वार्टर में रहेंगे संजय सिंह संजय सिंह को उनके आवास के पीछे वाले गेट से निकाला जाएगा. इसके बाद उन्हें दिल्ली में ईडी के हेडक्वार्टर में ले जाया जाएगा. रातभर वह लॉकर में रहेंगे. इसके बाद सुबह मेडिकल कराने के बाद कोर्ट में उनकी पेशी होगी. वहां संजय सिंह की कस्टडी की मांग की जाएगी। संजय सिंह की पत्नी बोलीं- ईडी पर अरेस्ट करने का दबाव था संजय सिंह की गिरफ्तारी पर उनकी पत्नी ने कहा कि ईडी ने पूछताछ कर घर, कंप्यूटर और दस्तावेजों की तलाशी ली, लेकिन कुछ नहीं मिला. ईडी अधिकारियों पर उन्हें (संजय सिंह को) गिरफ्तार करने का दबाव था और उन्हें गिरफ्तार कर लिया. इस गिरफ्तारी का ईडी ने हमें कोई कारण नहीं बताया है. उन्हें फर्जी मामले में अरेस्ट किया गया है. हम सभी उसके साथ हैं।

AAP ने कहा- अन्याय के खिलाफ लड़ते रहेंगे वहीं आम आदमी पार्टी ने कहा कि जिसके सिर पर मां का आशीर्वाद हो, उसका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता. हर क्रांतिकारी को जेल देखनी होती है, आज संजय सिंह को भी यह सौभाग्य प्राप्त हुआ है. ना डरे थे, ना डरेंगे. अन्याय के खिलाफ लड़ते रहेंगे। राघव चड्ढा बोले- 2024 से पहले बीजेपी बौखलाई आम आदमी पार्टी के सांसद राघव चड्ढा ने कहा कि ये राजनीति से प्रेरित कदम है. बीजेपी अगले साल होने वाले चुनावों में हार रही है. इसके चलते वह डर गई है. ये बैखलाई हुई बीजेपी आनन फानन में ऐसा काम कर रही है. उन्होंने कहा कि ईडी की रेड में एक फूटी कौड़ी बरामद नहीं हुई है । क्योंकि जब घोटाला ही नहीं हुआ तो मिलेगा क्या? ये बीजेपी का आखिरी पैंतरा है, जिसका इस्तेमाल कर बीजेपी विपक्ष को डराना चाहती है।

पॉकेटमार भी खुद को बेकसूर बताता हैः मनोज तिवारी बीजेपी सांसद मनोज तवारी ने कहा कि संजय सिंह के मार्फत अरविंद केजरीवाल को पैसे दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि संजय सिंह की गिरफ्तारी ये बताती है कि ये जांच अऱविंद केजरीवाल तक पहुंचेगी। उन्होंने कहा कि जब कोई पॉकेटमार भी पकड़ा जाता है, तो बहाने बनाता है. सत्येंद्र जैन और मनीष सिसोदिया लंबे समय से जेल में हैं. अब संजय सिंह को पकड़ा जाना ये बताता है कि अब अगली कार्रवाई अऱविंद केजरीवाल के खिलाफ होगी।

एजेंसी का दुरुपयोग नहीं होना चाहिएः कांग्रेस दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली ने कहा कि कांग्रेस किसी भी अनियमितता का समर्थन नहीं करती है, जो शराब घोटाले में दोषी हैं, उनके ख़िलाफ कार्रवाई होनी चाहिए. लेकिन एजेंसी का दुरुपयोग भी नहीं होना चाहिए। बीजेपी आतंक पैदा कर रही हैः प्रमोद तिवारी कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने कहा कि मैं इस गिरफ्तारी की निंदा करता हूं. ये बीजेपी का मायाजाल है. उन्होंने कहा कि 70000 करोड़ का घोटालेबाज अजीत पवार को मंत्री बना देते हैं. नारायण राणे को भारत सरकार में मंत्री बना देते हैं।

 बीजेपी हार से डरी हुई है । वह हताशा और निराशा में ऐसा कर रही है. इंडिया गठबंधन के जो मुखर नेता हैं, उनकी गिरफ्तारी एक-एक करके कर रहे हैं। भय और आतंक पैदा करने के लिए तमाम नेताओं की गिरफ्तारी हुई है, इसी कड़ी में संजय सिंह को अरेस्ट किया गया है। कैसे बढ़ीं संजय सिंह की मुश्किलें? संजय सिंह के यहां ये छापेमारी ऐसे वक्त पर हुई, जब एक दिन पहले ही दिल्ली की एक कोर्ट ने आबकारी नीति घोटाले में मनी लॉन्ड्रिंग केस में वाईएसआर सांसद श्रीनिवासुलु रेड्डी के बेटे राघव मगुंटा और बिजनेसमैन दिनेश अरोड़ा को सरकारी गवाह बनने की अनुमति दी थी। ED ने अपनी चार्जशीट में क्या आरोप लगाए?

आरोपी दिनेश अरोड़ा को केस में मुख्य कड़ी माना जा रहा है. ईडी ने अपनी चार्जशीट में आरोप लगाया था कि दिनेश अरोड़ा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से उनके आवास पर मुलाकात की थी। इस बैठक में संजय सिंह भी मौजूद थे. दिनेश अरोड़ा ने पूछताछ के दौरान बताया था कि वह सबसे पहले एक कार्यक्रम में संजय सिंह से मिला था. इसके बाद वह मनीष सिसोदिया के संपर्क में आया. सूत्रों का कहना है, यह दिल्ली चुनाव से पहले AAP नेता द्वारा आयोजित एक फंड जुटाने का कार्यक्रम था। चार्जशीट के मुताबिक, संजय सिंह के कहने पर दिनेश अरोड़ा ने दिल्ली में आगामी चुनावों के लिए पार्टी फंड इकट्ठा करने के लिए कई रेस्तरां मालिकों से बात की. इतना ही नहीं उसने 32 लाख रुपये का चेक भी सिसोदिया को सौंपा. ईडी ने यह भी आरोप लगाया है कि संजय सिंह ने दिनेश अरोड़ा का एक मुद्दा सुलझाया जो एक्साइज विभाग के पास लंबित था।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow